शुक्रवार, 8 मई 2020

How to Plan for Economic Future? आज तैयारी का सही समय | Lockdown Impact on Indiain Economy | समाधान

How to Plan for Economic Future? आज तैयारी का सही समय | Lockdown Impact on Indiain Economy | समाधान
नमस्कार दोस्तों। A Brain Charger में आपका स्वागत है। मैं एक जबरदस्त ब्लॉग पोस्ट और विडियों लेकर आया हू। अपने आर्थिक भविष्य की तैयारी कैसे करे?  के बारे में। देखिए आज हम एक ट्रेन्ज़िशन से गुजर रहे हैए बदलाव के फेज से गुजर रहे है इसमें बहुत कुछ बदलेगा, आप चाहे ये ब्लॉग पोस्ट और विडियों लॉकडाउन के दौरान देखें: रहे हो या बाद में तो भी ये ब्लॉग पोस्ट और विडियों आपके लिए उतना ही महत्वपूर्ण है जितना लॉकडाउन के दौरान।

          अनुपम खैर जी ने एक विडियों हाल ही में जारी किया था। उसमें उन्होने कहा की अभी अमृत मंथन चल रहा है, उसमें जहर भी निकलेगा और अमृत भी निकलेगा। अब आपका फोकस किस पर है? जहर पर है या अमृत पर? आपके हिस्से में क्या आता है? जहर आता है या अमृत? वो आपके कर्म पर निर्भर करता है की आप कर्म क्या कर रहे है? आपके कर्मो पर चीजे निर्भर करती है तो आपकों अभी से समझ जाना चाहिए की क्या सीखे और क्या जाने की आपका आर्थिक भविष्य सुनहरा हो सके। इस ब्लॉग पोस्ट और विडियों में हम तीन स्टेप में बात करेगे-
1. सबसे पहले जानते है कि इस Lockdown का आपके आर्थिक जीवन पर क्या प्रभाव होगा?
A. बुरा असर
होटल इन्डस्ट्री - 
चाहे वो होटल हो, रेस्टोरेंट हो, चाहे कोई ट्रांसपोर्टेषन सर्विस हो, छोटे दुकानदार हो, मिठाई से सम्बन्धित दुकानदार या इससे जुड़ी दूसरी इन्डस्ट्री हो जैसे जयपुर में देखिए ऐसे व्यापार जो टूरिज्म पर निर्भर है वो बाहर के और लोकल पर्यटक न आने की वजह से पूरे ठप पड़ चुके है। वो किस भी तरह का व्यवसाय हो सकता है छोटे स्केल पर हो सकता है या बड़े स्केल पर हो सकता है, एयरलाइन्स हो सकती है या रिक्षा ड्राइवर। ये पूरी इन्डस्ट्री ठप पड़ चुकी है और बहुत ही बुरा असर पड रहा है। 

आटोमोबाइल इन्डस्ट्री –
आटोमोबाइल जिसमें गाड़ीया आती है । उनके निर्माण कार्य, बिक्री कार्य, उनका डिस्ट्रब्यूशन और उनकी रिपरयरिग आती है। ये पूरे काम ठप पड़ चुके है क्योकी नया उत्पादन नही हो रहा है, नई सैल नही हो रही है और इस दौरान ठूल्स भी नही आ रहे है। बाहर आयात-निर्यात भी नही हो पा रहा है तो बहुत ही बुरा असर पड़ा है।

कन्स्ट्रक्शन और रियल स्टेट - 
कन्स्ट्रक्शन और रियल स्टेट से सम्बन्धित कोई भी व्यवसाय चाहे सप्लाई से जुड़ा हो, निर्माण से जुड़ा हो, सेलिग से जुड़ा हो या इन्वेस्टमेंट से जुड़ा हो इन सभी पर बुरा असर पड़ा है। इम्प्लॉइई या वर्कर पर भी बहुत बुरा असर पड़ा है क्योकि उनके लिए कोई काम नही है। जो प्रतिदिन कमाई पर काम कर रहे थे उनके लिए बहुत ही ज्यादा सरदर्दी का काम हो चुका है ओर यह सामान्य होने के बाद भी कई राज्यों में वर्कर काम कर रहे थे वहा नही जा पायेगे तो और जाने में दिक्कत होगी तो उस दौरान उन पर आर्थिक संकट आयेगा।

मैन्यफैक्चरिंग इन्डस्ट्री - 
कपड़े से सम्बन्धित, गाड़ियों से संबंधित और किसी भी तरह की अन्य मैन्यफैक्चरिंग की सभी इन्डस्ट्री पर असर पड़ रहा है। सभी ईकाइयां जो काम कर रही थी वह अब काम नहीं कर रही है। उन पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है।

फाइनेंस और बैकिंग -
जो उद्योग धन्धे नहीं चल पा रहे है उन पर जो लोन है उसकी रिकवरी नहीं हो सकेगी। साथ ही जो नये लोन लेने वाले थे वो ठप्प पड़ चुके है। इससे फाइनेंस और बैकिंग उन पर भी बुरा असर पड़ रहा है। जो इनसे रिलेटेड काम करने वाले लोग है, उन पर भी बुरा असर पड़ रहा है। 
ज़रूर देखें

Education इन्डस्ट्री -
स्टूडेन्टस् को समझ नहीं आ रहा है कि कैसे अपना टारगेट डिसाइड करें। वे सोच भी नहीं पा रहे हैं, कि कब तक एग्जाम होगीं। जो इंस्टिट्यूट चला रहे है जैसे स्कूल और कॉलेज संचालक उनको समझ नहीं आ रहा है कि कैसे स्टूडेंटस् तक जानकारी पहुंचाये और ये जो सेशन निकल रहा है उसकी भरपाई कैसे करें। नये ऐडमिशन इसी दौरान आते है, लेकिन उन भी असर पड़ेगा। जो इससे रिलेटेड काम करने वाले लोग है,उन पर भी बुरा असर पड़ रहा है।
          हॉबी क्लासेज से संबंधित इन्डस्ट्री पर भी बुरा असर पड़ रहा है क्योंकि इसी दौरान बहुत ज्यादा ऐडमिशन आने वाले थे। ये जो गर्मी का सीजन है, उसी में हॉबी क्लासेज में ज्यादा ऐडमिशन होते है। 
ज़रूर देखें

गैस-ऑइल-पट्रोल इन्डस्ट्री -
मार्केट में लोग जा नहीं रहे है। इधर की उधर की आवाजाही नहीं है तो उपभोग कम हुआ। उपभोग कम हुआ तो जायज सी बात है इस तरह की इन्डस्ट्री पर असर पड़ेगा। चाहे वो मैन्यफैक्चरिंग कर रही हो, चाहे सैल कर रही हो या डिस्ट्रीब्यूसन कर रही हो, सभी पर असर पड़ेगा।

एग्रीकल्चर इन्डस्ट्री - 
एग्रीकल्चर इन्डस्ट्री पर भी बहुत बुरा असर पड़ रहा है। क्योंकि आप देखिये दवाईयां उनको टाईम पर नहीं मिल पा रही है। फर्टीलाइजर नहीं मिल पा रहे है। कालाबाजारी मार्केट में हो रही है। वैसे जो बड़ी इन्डस्ट्रीयां है वे
तो अपने आप को कैसे भी सर्वाइव कर लेगी क्योंकि जब वो अपना प्रॉडक्ट निकालेगी तो अपने लोस को MRP में जोड़ कर पूरा करने की कोशिश करेगी। लेकिन जो छोटे किसान है, उनके साथ क्या होगा?  किसान अपने लोस को अपनी उपज की MRP में कभी भी नहीं जोड़ पाते है क्योंकि जो उपज का मूल्य हैं वह मार्केट ही तय करता है। किसान के लिए बहुत बड़ी समस्या होगी। उनके लिए अभी खेत में काम करने वाले वर्कर नहीं है, वहां पर समस्या है। देखिये मार्केट में लोग जिन्दा रहने के लिये खाना तो खायेंगे, लेकिन उसी के साथ सप्लाई, उत्पादन पर भी असर पड़ेगा।

इलेक्ट्रोनिक इन्डस्ट्री - 
इलेक्ट्रोनिक इन्डस्ट्री पर भी बुरा असर पड़ रहा है क्योंकि  मेटीरील  नहीं आ रहा है,  सैल  और  सप्लाई नहीं हो रही है।
        कुल मिलाकर सभी तरह की इन इन्डस्ट्री पर बहुत ही बुरा असर पड़ रहा है। इनसे रिलेटेड काम करने वाली इन्डस्ट्रीयों पर भी असर पड़ेगा। मार्केट में इन इन्डस्ट्री  पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है।


B. अच्छा असर
ई-कॉमर्स इन्डस्ट्री - 
अब हम उन इन्डस्ट्रीयों की बात-चीत करते हैं जिनको फायदा हुआ। ई-कॉमर्स इन्डस्ट्री को फायदा हुआ है। उनका अभी काम चल रहा  है वो डिलेवरी कर पा रहे है बहुत ज्यादा मात्रा में ऑर्डर आ रहे है। लोग घर पर बैठकर टेक्नॉलजी का यूज करना सीख रहे है। आने वाले समय में वो ई-कॉमर्स पर ज्यादा आश्रित होंगे। बाद में भी इस इन्डस्ट्री के लिये बढ़ीया अवसर रहेगा। आगे ग्रो करेगी ओर इसमें मुनाफा होगा। 

इनफॉर्मेशन और कम्यूनकेशन टेक्नोलॉजी - 
लॉकडाउन है, लेकिन आप इन्टरनेट यूज कर रहे है। आप ऑनलाइन गेंमिग, वीडियो,  सोशल मीडिया को यूज कर रहे है। इस इन्डस्ट्री को फायदा अभी भी हो रहा है और आने वाले समय में भी होगा। अभी आप वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिये ज़ूम ऐप्लीकेशन यूज कर रहे है। इसकी एक बार आपको आदत हो गई तो आने वाले समय में आप इसको ज्यादा यूज करेंगे और इसकी प्राइम मेंबरशिप आप खरीदेंगे। जो इन इन्डस्ट्री में डील कर रहे है, उन सभी लोगों को फायदा होगा। 
यूट्यूब विडियो देखें:

पर्सनल और हैल्थ केयर - 
पर्सनल हैल्थ केयर इंडस्ट्री फायदे में है। देखिये आपको जो पर्सनल-हैल्थ केयर प्रॉडक्ट यूज करने है वो आप लोकडाउन के दौरान भी करेंगे। हैल्थ केयर के प्रॉडक्ट किसी भी बीमारी से संबंधित हो सकता है या हैल्थ केयर के लिये आप सप्लीमेन्ट का सहारा ले रहे है। सप्लीमेन्ट इम्न्यूटी बढ़ाने के लिये बहुत महत्वपूर्ण है। सप्लीमेन्टस् का जो कारोबार है वो अभी बढ़ेगा। लोगो की दिमाग की घण्टी बजा कर प्रकृति ने ये काम ऐटोमेटिक कर दिया है कि अपनी हैल्थ कितनी जरूरी है। हैल्थ के लिये भी मार्केट बढ़ेगा तो ऐटोमेटिक ही इस इन्डस्ट्री को फायदा होने वाला है।

ज़रूर पढ़े: 




फूड इन्डस्ट्री - 
फूड से संबंधित जो भी इन्डस्ट्री है जैसे सप्लीमेन्ट इन्डस्ट्री या पैकेज फूड इन्डस्ट्री को बहुत फायदा होने वाला है। वैसे जो छोटे बेन्डर थे जैसे ज्यूज की दुकान वाले उनका धन्धा ठप्प पड़ चुका है। वहीं पैकेज फूड मे जो चींजे आ रही है वो इन्डस्ट्री बढ़ेगी। ऑनलाइन शॉपिंग करते है या रिलायन्स मार्केट से तो आप पैकड फूड ज्यादा लेते है जो आप आने वाले समय के लिये स्टोर कर सकते है। इस तरह के प्रोडक्ट की मांग ज्यादा बढ़ेगी और इस इंडस्ट्री को अपने आप ही फायदा होगा। 

मेडिकल हैल्थ केयर सर्विसेज - 
जैसे की आप जानते है कि मेडिकल की मैन्यफैक्चरिंग और सप्लाई को लॉकडाउन के दौरान भी अलग रखा गया है। इससे इन्डस्ट्री पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है। ये इन्डस्ट्री सुरक्षित रहेगी। कुछ-कुछ लोगों पर असर पड़ेगा जैसे कि मार्केटिंग करने वाले है, कुछ छोटे स्टोर है उन पर असर पड़ेगा। कुल मिलाकर इस इन्डस्ट्री में बहुत ही कम असर देखेंने को मिलेगा।

अब हम कुछ बैसिक चींजों के बारे में बात-चित करेंगे। जो बड़ी कम्पनी होती है उसके पास एक सिस्टम होता है। वो सिस्टम एडपट कर लेता और चींजे तुरन्त सीख लेता है। इससे इस तरह की बड़ी इन्डस्ट्री पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा। लेकिन जो छोटी इन्डस्ट्रीया है जो अपना नहीं कर रही है और सीख नहीं रही है उनको बहुत बड़ा चेलेंज सहन करना पड़ेगा। जैसे बड़ी इन्डस्ट्री को डिलेवरी करनी है तो वह अपने विशेष चेनल के द्वारा डिलेवरी करती है अगर उसमें लोड कम है, तो वो दूसरी कम्पनी के साथ टाइअप करके भी वो उनके साथ प्रॉडक्ट को डिलेवर कर रही है। साथ में जो Swiggy, Zomato होम डिलेवरी करने वाले थे उन लोगों के साथ भी ये इन्डस्ट्री टाइप करके अपने प्रॉडक्ट को डिलेवर कर रही है। कम्पनी अपने प्रॉडक्ट की कीमत में चेंज कर देगी तो उनको जो नुकसान हो रहा है उनकी रिकवरी कर लेगी।  

लेकिन किसान अपनी कीमत कभी भी नहीं जोड़ पाते है या अपनी कीमत को डिसाइड नहीं कर पाता हैं तो उसको नुकसान होगा। जब लॉकडाउन खुल जायेंगा उसके बाद भी लोग तुरंत खर्च नहीं करेंगे। लग्जरी पर तो मुख्य रुप से नहीं करेंगे। जिससे की आने वाले समय में Economy को रन होने में बहुत दिक्कत आयेगी। पैसा मार्केट में नहीं आयेगा तो अपनी जो ग्रोथ है वह नीचे रहेंगी। 

गर्वमेन्ट जॉब करने वालो पर भी असर पड़ रहा है। देखिये कहीं न कहीं उनकी सेलैरी में कटौती हो रही है। कहीं न कहीं अलाउसेंस कम होंगे। आने वाले समय में उनको जो फैसिलिटी मिलने चाहिए उसमें भी कटौती हो सकती है। हो सकता है कि जो अभी कटौती हो रही है वह अस्थायी हो रही वो स्थायी भी हो सकती है। सरकार कटौती करेंगी अपने बजट को बचायेगी तो कहीं न कहीं इनकी सैलरी एवं अलाउसेंस पर भी असर पड़ेगा। सभी चींजों पर कुल मिलाकर असर पड़ने वाला है। कुछ पर सकारात्मक, कुछ पर नकारात्मक। कुछ इन्डस्ट्री आपस में रिलेटेड है उन पर अप्रत्यक्ष रूप से भी असर होगा।

अब आप इस दौरान क्या करते है, वो चींज समझनी है। अब हम बात करते है कि कुछ निमय बदल रहे है। नियमों की बात करते है कि क्या नियम बदल रहे है। उनकी आपको कैसे तैयारी करनी है। देखिये मैंने जो कहा कि नियम बदल रहे है। सबसे पहले हम सरकार की बात-चीत करते है। देखिये सरकार लोगों का भला चाहती है। भला चाहने के लिये उसे बहुत कुछ स्टेप उठाने पड़ेगे। लेकिन उनका प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लोगों की Economy पर असर पड़ेगा। जैसे सरकार इस दौरान लॉकडाउन कर रही है अपने स्वास्थ्य के लिये। लेकिन लॉकडाउन में काम धंधे प्रभावित हो रहे है। सरकार को जो रेवेन्यू आयेगा, वो नही आयेगा तो सरकार जो खर्चा करने वाली है, जो सैलरी देने वाली है उस पर भी असर पड़ेगा।

नियम बदलना सरकार के लिये भी एक नई चींज है। कम्पनीयों के लिये भी नई चींज है। हम सब लोगों के लिये नई चींज है। पहली बार ऐसा कुछ हो रहा है। असर पड़ेगा तो आपको समझना होगा कि आपको अपनी कमान अपने हाथ में लेनी होगी।
ज़रूर देखें

देखिये हम छोटे थे तो बताया जाता था कि स्कूल में जाइये अच्छे नम्बर लाइये और अच्छी जॉब ढुढ़िये। आज कोई भी कम्पनी या सरकार आपका जो आर्थिक भविष्य है उसको सुरक्षित करने की नहीं सोचेगी। वो अपने सर्वाइवल के लिये कुछ कर सकती है लेकिन आपके आर्थिक भविष्य को सुरक्षित करने के लिये या तरक्की के लिये कुछ नहीं करेगी। क्योंकि देखिये ये औद्योगिक युग नही है ये इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का युग है। आज नियम बदल चुके है, आपको खुद को अपनी कमान सम्भांलनी होगी, अपने आर्थिक भविष्य को सुरक्षित करना होगा। सीखना होगा, अपने आप को अपडेट और अपगे्रड करना होगा। इस तरह देखिये जो मुद्धा है वह अर्थव्यवस्था नहीं है मुद्धा तो आप है। आप क्या सीख रहे है? आप क्या बदलाव कर रहे है? क्या आप बदलाव के लिये तैयार है?  उस पर सब कुछ निर्भर करेगा। 

इस तरह से आप देख रहे है कि चाहे सरकार हो या कोई कम्पनी हों, बहुत से लोगों के लिये नियम बदल चुके है। इन्डस्ट्रीयां चेंज हो रहीं है। इन्डस्ट्री जिनका कोई अस्तित्व नहीं था वो आज बूम कर रहीं है। आप थोड़ा गुगल करके देखिये जो कम यूज हो रहे थे, जैसे ऑनलाइन  प्लेटफार्म ज़ूम । इन चींजों को ऑनलाइन इन्डस्ट्री बढ़ रही है। ये ट्रेन्ज़िशन फेज है इसके बाद इन्डस्ट्री का असर पड़ेगा। कुछ उभर कर आयेगी, कुछ डूब जायेगी। इस दौरान आप एक कर्मचारी हों या बिजनेस मैन हों या कोई व्यापारी सभी को अपनी तैयारी करनी चाहिए। क्योंकि इन बदलते हुए नियमों के साथ आप खुद नहीं बदलेंगे तो आपको दुनिया पीछे छोड़ देगी और आप अपने आप पिछे हासिये में चले जायेंगे। 

2. समाधान
देखिये कुछ समाधान कॉमन हैं, और कुछ समाधान विशिष्ट है। अभी हम कुछ कॉमन समाधान के बारे में बात-चीत करेंगे।

यर्थाथ्वादी आर्थिक शिक्षा।
आपको सबसे पहले यर्थाथ्वादी आर्थिक शिक्षा लेनी चाहिए। यानि आपको समझना चाहिए कि कैसे आप मौलिक रूप से छोटे स्केल पर अपनी आर्थिक शिक्षा लेकर अपने जीवन के आर्थिक भविष्य को कैसे सुरक्षित कर सकते है। आप कुछ सक्सेसफूल इन्सानो कि बुक्स पढ़िये, वीडियो देखिये जो आपको बता रहे कि कैसे आप कर सकते है। किसी पर्टीक्यूलर इंसान से बात-चीत कीजिए जो इस सील्ड में इन चींजों के बारे में जानता हों। इस तरह से आप इसका समाधान निकाल सकते है कि किस तरह आप अपना आर्थिक भविष्य सुरक्षित कर सकते है।
यूट्यूब विडियो देखें:  

मास्टर माइंड समूह का हिस्सा बनिये।
मास्टर माइंड समूह का हिस्सा बनिये या मास्टर माइंड समूह को इक्ट्ठा कीजिए। आपके चारों तरफ ऐसे लोग है जो तरक्की कर रहे हैं या तरक्की के बारे में बातें कर रहे है। उन लोगों से बात कीजिए। उनसे हाल चाल पूछिये और पूछिये की आप कैसे अपने आर्थिक भविष्य को सुरक्षित कर सकते है। वो आपको कुछ टिप्स दें सकते है। ऐसे लोगों को आप मैसेज भेज सकते है। जैसे Instagram के द्वारा, या Whatsapp के द्वारा या उनसे बात-चीत करने का काई तरीका ढूंढ सकते है। वो आपकी इस चींज में मदद कर सकते है।
यूट्यूब विडियो देखें:

फटाफट सीखना चाहिए।
सीखने की इच्छा हम लोगों में होनी चाहिए। सिखेंगे तो आप अपने अन्दर सुधार करेंगे और आप प्रतियोगिता से अलग होंगे। अलग होगे तो आगे भीड़ कम मिलेगी। ये महत्वपूर्ण चींजे है जो आपको ध्यान में रखनी चाहिए।
यूट्यूब विडियो देखें:

नई टेक्नॉलॉजी और नई प्रोसेस अपनाना ।
बड़ी कम्पनीयां न्यू टेक्नॉलॉजी को अपना रही है। जैसे कोई पर्टीक्यूलर टाइप का टूल नहीं मगवा पा रहे है तो लोकल इन्डस्ट्री से बनवा रहे है या वो खुद ही बनाने की कोशिश कर रहे है। वो ऐटोमेटिक प्रोसेस कर रहे है। कम्पनीयां डिलेवरी के लिये आपस में टाइप कर रही है। उनके पास सिस्टम है तो वो फास्ट अपना रही है। आपको भी ये करना चाहिए कि नई प्रोसेज को फास्ट तरीके से अपनाना चाहिए। उसे लागू करना चाहिये। उसे अपने बिजनेस में या फ्यूचर में काम में लेना हो तो आपको उसकी अभी से तैयारी करनी चाहिए।

FMCG Product में डील करना।
FMCG Product का मार्केट हमेशा रहेगा, चाहे कुछ भी हों। ये डेली लाइफ की चींजे है, उनको लोग यूज करेंगे। चाहे कोई भी मन्दी का दौर हों चाहे कुछ भी हों। ये इन्डस्ट्री लगभग रिसेशन फ्रूफ है। चाहे लोग लग्जरी की तरफ नहीं बढ़े लेकिन जो बेसिक प्रॉडक्ट तो हमेशा लेंगे। क्या आपके पास कुछ प्रॉडक्ट है जो लोग यूज कर रहे है। इस दौरान लोग प्रॉडक्ट तो यूज करेंगे, जब वे खत्म हो जायेंगे तो दूबारा डिमांड करेंगे। क्या आप FMCG Product का कुछ काम कर रहे है? सप्लाई कर रहे हैए मैनिफ्रेक्चरींग कर रहे है। अगर नहीं कर रहे है तो आपको विचार करना चाहिए। स्पेषली आपको नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में तो जरूर विचार करना चाहिए। नेटवर्क मार्केटिंग लॉकडाउन के बाद में बहुत जबरदस्त तरीके से बढ़ेगा। नेटवर्क मार्केटिंग में पर्टीक्यूलर FMCG Product होते है। मान लीजिए कोई आदमी पर्टीक्यूलर तेल-साबून लगा रहा है। वो कन्जुयूम कर रहा है आने वाले समय में उसकी डिमांड होगी तो उसी कम्पनी की चींजें लेगा। या अगर कोई डिस्टीब्यूटर है तो वो खुद अपने घर पर कन्जुयूमर है वो अपना ही प्रॉडक्ट यूज कर रहा है और लोगों को बता रहा है। FMCG प्रॉडक्ट और नेटवर्क मार्केटिंग से संबंधित प्रॉडक्ट इन्डस्ट्री आने वाले समय में ग्रो करने वाली है। इस पर आपको फोकस करना चाहिए। कहीं न कहीं आपको इसमें बिजनेस का अवसर तलाशना चाहिए और आपने आर्थिक भविष्य को सुरक्षित करना चाहिए।

ऑनलाइन और डिजीटल होना।  
आपको डिजीटल होना चाहिए। आपको ऑनलाइन होना चाहिए। आपका व्यापार ऑनलाइन  होना चाहिए। आपका कम्न्यूकेशन ऑनलाइन होना चाहिए। प्रोसेसिंग ऑनलाइन होनी चाहिए। आप देखें की आपके बिजनेस में ऑटमेशन है या नहीं,  ऑनलाइन है या नहीं है। अगर नहीं है तो उसको अपनाने की कोशिश करें। मैंने इस पर बहुत सारे वीडियो बनाये है। वहां से आप सीख सकते है कि कैसे आप अपने बिजनेस को डिजीटल/ ऑनलाइन  करें। अगर किसी को इस मैटर में समस्या आती है तो मेरे को पर्सनल मैसेज कर सकते है या Whatsapp पर पर्सनल मैसेज भेज सकते है। मैं आपकी मदद कर सकता हूं बिजनेस को ऑनलाइन / डिजीटल करने में ।
यूट्यूब विडियो देखें:

बड़े सिस्टम का हिस्सा बनिये।
आप या तो एक बहुत बड़े सिस्टम का हिस्सा बनिये या बहुत बड़ा सिस्टम बनाइये। सिस्टम तेज अपनाता है। चींजो में और टेक्नॉलॉजी में वो अपने आप क्रांति ले आता है। क्रांति लाने से आने वाले समय में फर्क नहीं पड़ने वाला है। जैसे की उदाहरण की बात करता हूं। Amazon एक कम्पनी है जो ऑनलाइन है। वो ऑनलाइन  प्रॉडक्ट डिलेवरी करती है। लेकिन इस लॉकडाउन के दौरान प्रभावित हुई क्योंकि सरकार के पास गाइड लाइन नहीं थी। पहली बार ये चींज फेस कर रही है। सरकार ने सटडाउन कर दिया लेकिन उन लोगों ने कम्यूनकेट किया और गर्वनमेंट से कहा कि हम की सप्लाई जारी रखेंगे। गर्वनमेंट ने विशेष अनुमति दी। वो आज भी मार्केट में सप्लाई कर पा रहा है। उनके पास सिस्टम बड़ा है इसलिए वो गर्वनमेंट से बात-चीत कर पा रहे है। आप छोटे व्यापारी है तो आपके पास सिस्टम कमज़ोर है। आप डाइरेक्ट गर्वनमेंट से बात-चीत नहीं कर पा रहे है। आपको इसमें विशेष अनुमति और छूट नहीं मिलेगी। आपको कहीं न कहीं एक सिस्टम का हिस्सा होना चाहिए जो आपको लड़ने में या आपको आगे बढ़ने में मदद कर सकें। 

फ्यूचर प्लानिंग।
फ्यूचर की प्लानिंग आपको आज से ही करनी चाहिए। बहुत से लोग है जो फ्यूचर की प्लानिंग नहीं करते है। उनका कोई लक्ष्य नहीं है कोई टार्गेट नहीं है। इसलिए उनको तकलीफ महसूस करनी पड़ रही है। आपको फ्यूचर प्लानिंग करनी चाहिए कि आपको फ्यूचर में क्या-क्या चींजे करनी चाहिए। 

आय में विविधता।
अगर आपकी एक ही जगह से इनकम आ रही है तो आपको अपनी इनकम को Diversify करना चाहिए। किसी आदमी का इवेंट आर्गेनाईजेशन का काम था जो इस लोक डाउन के दौरान बंद हो चुका है। आने वाले कई समय तक बन्द रहने वाले है। उनका धंधा चैपट हो चुका है। उन पर आर्थिक संकट आ चुका है। क्योंकि कुछ उनकी दैनिक देनदारी है वो तो जारी रहेगी। लेकिन फिर भी इस दौरान उनको कोई रेवेन्यू नहीं आ रहा है। नई कोई इनकम या प्रोपिट नहीं आ रहा है। उस पर बहुत ज्यादा असर पड़ेगा। यदि आप के अलग-अलग इनकम स्रोत होंगे तो आपको कोई भी आर्थिक उतार चढ़ाव परेशान नहीं करेगा। कहीं ना कहीं से तो आपको कुछ ना कुछ फायदा हो रहा होगा जिससे कि आपका आर्थिक भविष्य सुरक्षित रहेगा।
यूट्यूब विडियो देखें:

हैल्थ और वेलनेस इन्डस्ट्री से संबंधित काम।
हैल्थ और वेलनेस  इन्डस्ट्री से संबंधित काम कर सकते है। जैसे आप सप्लीमेंट से संबंधित कारोबार कर सकते हैं। कहीं कहीं इसकी डिलेवरी मैन्यूफैक्चरींग से संबंधित कोई आइडिया लगा सकते है। कैसे आप इस इन्डस्ट्री में घुस सकते है ?  नेटवर्क मार्केटिंग के बहुत सारे प्रॉडक्ट है जो हैल्थ और वेलनेस  इन्डस्ट्री के अन्तर्गत आते है। इसके अन्तर्गत भी आप देखें सकते है कि नेटवर्क मार्केटिंग इन्डस्ट्री कहीं न कहीं आपको इस चींज में मदद कर सकती है। वहां पर भी आप एक अर्पोच्यूनिटी को तलाष कर सकते है और अपने आर्थिक भविष्य को सुरक्षित कर सकते है। 

ई-कॉमर्स के साथ-साथ यूटूब और सोशल मीडिया मीडिया है उसके द्वारा आप भी लोगों तक पहुंच सकते है। आप अपने आप को डिजिटल कर सकते है। प्रमोट कर सकते है। अर्निग कर सकते है। कम्यूनिटी बना सकते है। लोगों के साथ बहुत बड़ा जुड़ाव कर सकते है। टेक्नॉलॉजी या सोषल मीडिया डिजिटल टेक्नॉलॉजी भी आपकी मदद कर सकती है।
यूट्यूब विडियो देखें:

अपने बिजनेस एवं आर्थिक भविष्य को सुरक्षित करने के लिये आप डिलेवरी या लजिस्टिक्स  में जा सकते है। लजिस्टिक्स बिजनेस अभी कुछ हद तक प्रभावति हो रहा है। आने वाले समय में इसकी डिमांड बढ़ेगी। सप्लाई चाहिए। सप्लाई तो करनी ही पड़ेगी। इसका मार्केट आने वाले समय में बढ़ेगा। इस तरफ भी आप फोकस कर सकते है कि किस तरह आप डिलेवरी या लजिस्टिक्स चींजों में ध्यान दे।

एक इन्डस्ट्री यह हो सकती है कि Non-cyclic प्रॉडक्ट जैसे कि टूथपेस्ट , शैम्पू , साबुन । टूथपेस्ट किसी को उपयोग करना है तो वो करेगा। वो नालियों में चला जाएगा। ये Non-cyclic प्रॉडक्ट है इनका डिमांड बढ़ रही है तो आप इस इन्डस्ट्री की तरफ भी कहीं न कहीं फोकस कर सकते है। आपके भविष्य को सुरक्षित करें। कुल मिलाकर देखा जाए तो ये समय सीखने का और न्यू टेक्नॉलॉजी-न्यू प्रोसेज अपनाने का।

इतना सब जानने के बाद अगर आप हाथ पर हाथ धरे बैठे रहेंगे तो आपको बाउंस बैक करने में बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ेगा । उसमें बहुत ही लंबा समय लगेगा और आपकी आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुंचेगा। आपके भविष्य को नुकसान पहुंचेगा। आपकी योजनाओं को नुकसान पहुंचेगा। आज ही निर्णय लीजिए। मैंने जो काम बताए हैं उन पर अमल कीजिए जिससे कि आपका आर्थिक भविष्य सुरक्षित हो पाएगा।

3. अब हम कुछ विशेष चींजों के बारे में बात करते है कि कुछ विशेष लोगो को इस दौरान क्या करना चाहिए ? 
प्राइवेट टीचर
जो भी प्राइवेट टीचर थे उनकी सैलरी में कटौती हो रही है। उनको क्या करना चाहिए इस दौरान ?  उनको ऑनलाइन आना चाहिए। वीडियो के माध्यम से आ सकते है वाट्सप के माध्यम से बच्चों से बात कर सकते है वो अपनी स्कूल से बात कर सकते है। उनको समाधान बता सकते है। इस तरह Zoom, Whatsapp, YouTube पर जानकारी और शिक्षा के बारे में बात कर सकते है। साथ में स्कूल से बात चीत करके स्कूल को भी इस तरफ ला सकते है। जिससे की वो अपनी साख बनाएंगे तो उनकी सैलरी नहीं कटेगी। आने वाले समय में वो अच्छे पैसे जनरेट कर सकते है और बच्चों की और अपने इन्सटीट्यूट की भी मदद कर सकते है।
यूट्यूब विडियो देखें:

डिलेवरी करने वाले लोग
किसी भी प्रॉडक्ट की या सर्विसेज की जैसे Amazon, Flipkart, Swiggy कि डिलेवरी करने वाले लोगों को अभी लर्न करना चाहिए। उसको अभी स्कील सुधार करना चाहिए। कुछ नया करना चाहिए। कुछ अलग सीखे अपनी एक नई स्कील डवल्प कर सकते है। जिसे की वो इनकम के अलग अलग स्रोत तक जा सकते है।

डॉक्टर
प्राइवेट ओपीडी अब बन्द है तो उनको क्या करना चाहिए? आपको ऑनलाइन जाना चाहिए। ऑनलाइन  कॉन्सल्टेशन करना चाहिए। आप जानकारी कम्न्यूकेट कर सकते है। आप हैल्थ क बारे में जागरूक कर सकते है। अपनी Social Media पर ब्रान्डिंग कर सकते है और आने वाले समय में बहुत ज्यादा परसेन्ट को अटेन्ट कर सकते है। 
यूट्यूब विडियो देखें:

कन्स्ट्रक्शन और रियल स्टेट - 
कन्स्ट्रक्शन और उससे रिलेटेड जो लोग है या उससे संबंधित जो वर्क कर रहे है। उन्हें इस दौरान सीखने का समय है। मैंने जैसे पहले बताया आपको नई चींज सीखनी है। डिजिटल जाना है। आपको अपनी पोर्टफोलियो को मजबूत करना है जिससे की आप जब कम्पीटीशन में जाये तो आप अलग ही रहे। अलग रहेंगे तो आपको कहीं न कहीं काम धंधा ज्यादा मिलेगा।

इलेक्ट्रिक सैलिंग और रिपरयरिंग 
इलेक्ट्रिक सैलिंग और रिपरयरिंग का काम करते है उनको डिजिटल जाना चाहिए। उनको नई चींज सीखनी चाहिए। आपको लर्निग पर फोकस करना चाहिए। जिससे की आने वाले समय में आपको कम्पीटीशन में काम धंधा ज्यादा मिल सके।
यूट्यूब विडियो देखें:

बेकरी और मिठाई
बेकरी और मिठाई से संबंधित जो काम कर रहे है उनको यह काम करना चाहिए कि जो उनको रेसीपी आती है उनको डिजिटल तरीके से लोगों को सीखा सकते है। अगर वो डिजिटल तरीके से कोई भी चींज या रेसीपी सिखायेंगे तो उनका क्रेज बढ़ेगा। इस दौरान वो एक चींज यह कर सकते है कि वो लोगों को पक्का कर सकते है कि आने वाले समय में लॉकडाउन खुले या लॉकडाउन में डील मिले तो कैसे वो सेप्टी का ध्यान रखें। कैसे वो हाइजिंन का ध्यान रख रहे है। जिसे की कस्टमर वहां तक जाये और प्रॉडक्ट खरीदें। कोई भी पर्टीक्यूलर चींज की सर्विसेज दें तो उनको इस चींज पर फोकस करना चाहिए कि कैसे वो लोगों तक अच्छी चींज पहुंचा सकते है। रेसीपी के माध्यम से अपनी ब्राइडिंग कर सकते है। 

हॉबी क्लास
क्रिकेट एकेडमी हो या हॉबी क्लास उनको भी ऑनलाइन  आना चाहिए। डिजिटल आना चाहिए। ऑनलाइन  लर्निग भी कर सकते है साथ में नई चींज को अटेन्ट भी कर सकते है। जब लॉकडाउन खुलेंगा तो उनको लीड मिलेगी और अपने आप फायदा होने वाला है। 

इसी तरह बहुत सारी इन्डस्ट्रीयां है जैसे ब्यूटी पार्लर या सैलून, स्कूल और कोचिंग इन्सटीट्यूट इन सब को डिजिटल जाना चाहिए। डिजिटल प्रेज़ॅन्स बनानी चाहिए। कुछ नया सीखना चाहिए। स्किल सुधारनी चाहिए। लोगों से कम्न्यूकेट करना चाहिए। अपने मास्टर माइंड समूह के लोगों की मदद लेनी चाहिए। 

आप बिजनेसमैन हो तो आपको अभी कुछ तैयारीयां करनी चाहिए। अपना माइंड सेट करना चाहिए। नई चींज सीखनी चाहिए। आप लोगों से रीलेशन्शिप बना सकते है। ऐसे बहुत से तरीको के द्वारा आप बाउंस बैक कर सकते है। आपके भविष्य को सुरक्षित कर सकते हों। 
यूट्यूब विडियो देखें:

मैंने आपको बहुत सारे विशेष और आम उदाहरण बताए है। इन सभी का यूज कर आप अपने आर्थिक भविष्य को सुरक्षित कर सकते है। अगर किसी को इसके बारे में और जानना हो कि वह कोई पर्टीक्यूलर काम करता है तो कैसे वो अपने आर्थिक भविष्य को सुरक्षित करें तो आप Whatsapp Link पर मुझे मैसेज कर सकते है। मैं आपकी मदद करने की 100% कोशिश करूंगा कि मैं आपको सही समाधान बताऊ। जिसे की आप अपने आर्थिक भविष्य को सुरक्षित कर पायें। तो घर पर रहिये, सुरक्षित रहिये, आगे बढ़ते रहिये, नई चींजों को सीखते रहिये।

पुस्तको कि सारणी 
इस Blog Post के बारे में अपनी राय Comment के द्वारा बताएं। Post  को Share करें जिससें अन्य लोग भी इसका फायदा उठा सकें। ऐसे ही अन्य Update के लिए  आप हमें Facebook, YouTube, Instagram, TikTok, Twitter और Telegram पर Join कर सकतें है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें